त्योहार नहीं होता कोई भी अपना पराया, त्योहार वही जिसे सबने मिलकर मनाया। जैसे मिलता है गुड़ में तिल, वैसे ही आप भी एक दूसरे के साथ जाओ घुल मिल। लोहड़ी की शुभकामनाएं।

त्योहार नहीं होता कोई भी अपना पराया,
त्योहार वही जिसे सबने मिलकर मनाया।
जैसे मिलता है गुड़ में तिल,
वैसे ही आप भी एक दूसरे के साथ जाओ घुल मिल।
लोहड़ी की शुभकामनाएं।