राष्ट्रीय पर्यटन दिवस के अवसर पर सभी को हार्दिक शुभकामनाएं।

अपनी मर्ज़ी से कहाँ अपने सफ़र के हम हैं
रुख़ हवाओं का जिधर का है उधर के हम हैं