पति और पत्नी एक कुएं के पास गए, जहां सिक्का डालने से मन की मुराद पूरी हो जाती थी। पहले पति ने सिक्का डाला, फिर पत्नी जैसे ही सिक्का डालने गई तो पैर फिसल गया और वो कुएं में गिर गई। पति की आंखों में आंसू आ गए, ऊपर देखते हुए बोला – हे भगवान, इतनी जल्दी सुन ली।

पति और पत्नी एक कुएं के पास गए,
जहां सिक्का डालने से मन की मुराद
पूरी हो जाती थी।
पहले पति ने सिक्का डाला, फिर पत्नी
जैसे ही सिक्का डालने गई तो
पैर फिसल गया और वो कुएं में गिर गई।
पति की आंखों में आंसू आ गए,
ऊपर देखते हुए बोला – हे भगवान,
इतनी जल्दी सुन ली।