खुश हूँ मैं क्योंकि मुझे सपनों से ज्यादा अपनों की फ़िक्र है

खुश हूँ मैं क्योंकि
मुझे सपनों से ज्यादा अपनों की फ़िक्र है