जब नाम तिरा लीजें, तब अश्क भर आए, यूं जिन्दगी करने को कहाँ से जिगर आए।

जब नाम तिरा लीजें, तब अश्क भर आए,
यूं जिन्दगी करने को कहाँ से जिगर आए।