हज यात्रा के है दाे पैकेज

कोरोना संक्रमण के कारण पिछले दो साल से भारत से आजमीन हज यात्रा को नहीं जा पा रहे थे। बरेली हज सेवा समिति के संस्थापक पम्मी खान वारसी ने बताया कि हज यात्रा पर जाने वालों के लिए दो पैकेज होते हैं। एक अजीजिजा ग्रुप जो काबा शरीफ से करीब आठ किलोमीटर दूर है। आजमीन के वहां रुकने पर कम खर्च आता है। दूसरा ग्रीन ग्रुप है, जो काबा शरीफ के काफी नजदीक है। वहां रिहाइश के लिए अधिक खर्च होता है। इन दोनों पैकेज में पिछले तीन साल से लगातार वृद्धि हो रही है।