फौजी की मौत पर परिवार को दुख कम, और गर्व ज्यादा होता है, ऐसे सपूतों को जन्म देकर, मां का कोख भी धन्य हो जाता है…

फौजी की मौत पर परिवार को दुख कम, और गर्व ज्यादा होता है,
ऐसे सपूतों को जन्म देकर, मां का कोख भी धन्य हो जाता है…